भारत में जल्द शुरू होगा 5G का ट्रायल, बोले केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद

खबरें अभी तक। जैसा कि आप सभी जानते ही हो कि विश्वभर में 5G नेटवर्क पर काम शुरू हो चुका है। और आपको बता दें कि अमेरिका के साथ कुछ देशों में इसकी सर्विस शुरू भी कर दी है। भारत में भी 5G सर्विस की टेस्टिंग शुरू करने की कवायद तेज हो चुकी है। वहीं इस बीच चीन के उद्योग और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MIIT) ने व्यापारिक इस्तेमाल के लिए 5जी लाइसेंस को मंजूरी दे दी गई है। एमआईआईटी मंत्री मियाओ वेई ने कहा कि चीन विदेशी कंपनियों का देश के 5जी बाजार के निर्माण में स्वागत करता है।

वहीं हाल ही में चीनी कंपनी हुवावे टेक्नोलॉजी ने भारत से पूछा कि वो देश में 5G टेक्नॉलजी के डेवलेपमेंट में शामिल हो सकती है या नहीं। हुवावे इंडिया के चीफ एग्जिक्यूटिव जे चेन ने बताया कि इंडस्ट्री और भारत के लिए पॉलिसी और स्टैंडर्ड्स सिक्यॉरिटी बेनेफिट उपलब्ध कराएंगे। साथ ही आगे कहा कि टेलिकॉम डिपार्टमेंट के लिए यह फैसला करने का समय है। बता दें कि अमेरिका के हुवावे को ब्लैकलिस्ट में डालने के बाद दुनियाभर में चीन की इस कंपनी की स्क्रूटनी बढ़ी है।

अब बात करें अगर भारत में 5G को लेकर तो केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि हमारा पहला लक्ष्य 100 दिन के अंदर देश में 5जी का ट्रायल शुरू करना है। उन्होंने कहा कि सरकार इस साल 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी करने हेतु प्रतिबद्ध है। साथ ही कई रेडियो फ्रीक्वेंसी की भी नीलामी की जाएगी। ट्राई ने भी 5जी समेत करीब 8,644 मेगाहर्ट्ज टेलीकॉम फ्रीक्वेंसी की नीलामी की सिफारिश भेज दी है। आपको बता दें कि इससे तकरीबन 5 लाख करोड़ रुपये मिलने का अनुमान लगाया जा रहा है। इतना ही नही बल्कि देशभर में 5 लाख वाईफाई हॉटस्पॉट बनाने की योजना पर भी तेजी से काम किया जाने की ओर विचार किया जा रहा है।

Add your comment

Your email address will not be published.