सरहदों की रक्षा में पूर्व सैनिकों का अमूल्य योगदान : डीसी

खबरें अभी तक। भारतीय सेना के तीनों अंगों के शहीद सैनिकों की शहादत व शक्ति को याद करने के उद्देश्य से चरखी दादरी में वेटरेनस डे मनाया गया। इस दौरान उपायुक्त धर्मवीरी सिंह ने रोज गार्डन स्थित शहीद स्मारक पर पूर्व सैनिकों वह शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर पुलिस गार्द ने शस्त्र झुका कर शहीद सैनिकों को याद किया।

बता दें कि भारत के प्रथम फील्ड मास्टर मार्शल के एम करिअप्पा की याद में वेटरन डे मनाया जाता है और इसकी शुरुआत 2017 में की गई थी। जिला सैनिक बोर्ड व जिला प्रशासन द्वारा संयुक्त रूप से शहीद सैनिकों व पूर्व सैनिकों के साहस को सलामी दी। उपायुक्त धर्मवीर सिंह ने इस मौके पर कहा कि ना केवल शहीद सैनिकों बल्कि सेना में अपनी बेहतर सेवाएं दे चुके सैनिकों की याद में वेटरनस डे मनाया जाता है। बल्कि भारतीय सेना के साहस और शौर्य को आज दिन याद किया गया है। इसके साथ ही भूतपूर्व सैनिकों शहीद विधवाओं को आने वाले कानूनी, पेंसन, आश्रित लाभ व अन्य समस्याओं को जिला सैनिक बोर्ड के माध्यम से सुलझाने के लिए शिविर भी लगाया गया।

जांबाज शहीदों से प्रेरणा लें युवा

जिला सैनिक बोर्ड अधिकारी सतबीर सिंह ने बताया कि देश के लिए अपनी जान न्यौछावर करने वाले शहीदों को आज श्रद्धांजलि भेंट की गई है। भारतीय सेना के तीनों अंगों के वेटरनस को आज याद किया गया है। उन्होंने कहा कि हमें अपने शहीदों को याद रखना चाहिए, तभी हमारा समाज आगे बढ़ सकता है। युवाओं को भी भारतीय सेना के जांबाज शहीदों से प्रेरणा लेनी चाहिए।

Add your comment

Your email address will not be published.