निकोबार महाद्वीप में भूकंप के झटकों से सहमें लोग

खबरें अभी तक: निकोबार महाद्वीप में आज सुबह भूकंप के झटकों से लोग सहम उठे। जानकारी के मुताबिक रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 4.7 मापी गयी है। फिलहाल भूकंप से किसी भी प्रकार के नुकसान की अभी तक कोई खबर नही आई है। साथ ही आपको बता दें कि लगभग एक हफ्ते पहले अंडमान महाद्वीप में भूकंप के इटके महसूस किए गए थे।बता दें कि इससे पहले 17 जनवरी को भी निकोबार द्वीप में भूंकप के झटके महसूस किए गए थे। जहां भूकंप की तीव्रता 6 थी। जिसका केंद्र निकोबार द्वीप क्षेत्र में था।

आपको बता दें कि भूकंप क्यों आता है। पृथ्वी बारह टैक्टोनिक प्लेटों पर स्थित है। जिसके नीचे तरल पदार्थ लावा के रूप में है। ये प्लेटें लावे पर तैर रही होती हैं। इनके टकराने से ही भूकंप आते हैं। टैक्‍टोनिक प्लेट्स अपनी जगह से हिलती रहती हैं और खिसकती भी हैं। हर साल ये प्लेट्स करीब 4 से 5 मिमी तक अपने स्थान से खिसक जाती हैं। इस क्रम में कभी-कभी ये प्लेट्स एक-दूसरे से टकरा जाती हैं। जिनकी वजह से भूकंप आते हैं।

अगर भूकंप आए तो भूकंप का एहसास होते ही घबराएं नहीं बल्कि घर से बाहर किसी खाली जगह पर खड़े हो जाना चाहिए। बच्चों व बुजुर्गों को पहले घर से बाहर निकालें। किनारे में खड़े रहें। घर में भारी सामान सिर के ऊपर नहीं होना चाहिए।

 

 

Add your comment

Your email address will not be published.