साइबर ठगों ने की अनोखी ठगी, जमाबंदी पोर्टल से ठगों ने लिया डाटा, जांच में जुटी पुलिस…

ख़बरें अभी तक: पुलिस साईबर ठगी (Cyber Fraud) को रोकने के लिए कड़ी कोशिशें करती है और उधर ठग रोज नया तरीका निकाल लाते हैं। जिससे साईबर पुलिस (Cyber Police) भी परेशान है। अंबाला (Ambala) में साईबर ठगों (Cyber Frauds) ने पिछले 6 महीनों में उन लोगों को निशाना बनाया जो जिन्होंने अपनी दुकान मकान, प्लॉट इत्यादि की रजिस्ट्री करवाई हो।

ठगों ने बिना ओटीपी (OTP) के उनके खातों से हजारों रुपए उड़ा दिए। शिकायतें साईबर पुलिस (Cyber Police) के पास पहुंची तो पूछताछ में सामने आया कि जिनके साथ भी ठगी हुई वो आखिरी बार रजिस्ट्री करवाने गए थे। जिसके बाद साईबर पुलिस (Cyber Police) ने SDM अंबाला (Ambala) को मिल इसकी जानकारी दी तो उन्होंने सरकार को चिट्ठी लिख इस पर संज्ञान लेने के लिए कहा जिसके बाद जमाबंदी पोर्टल को फिलहाल बंद कर दिया गया है।

ASP अंबाला (Ambala) पूजा डाबला ने बताया साईबर ठगों से बचने के लिए रोज लोगों को जागरूक कर रहे हैं। पुलिस ने 1930 नम्बर जारी किया है। जिस पर 48 घण्टे में कॉल करने से पैसा फ्रिज हो जाता है। साइबर ठगों (Cyber Frauds) से बचने या बचाने का पुलिस के पास भी कोई रास्ता नही है।

वहीं इस ममले में SDM ने जमाबंदी पोर्टल पर जरूरी डाक्यूमेंट (Document) अपलोड करवाने बंद करने की अर्ज सरकार से लगाई है। दरअसल ठग जमाबंदी साईट से डिटेल डालकर वहां से जरूरी डॉक्यूमेंट (Document) निकाल लेते हैं और क्लोन कर ठगी का खेल करते हैं। 

Add your comment

Your email address will not be published.