प्रधान पद के उम्मीदवारों को मिले बराबर वोट, जानें फिर कैसे हुआ चुनावी भाग्य का फैसला ?

ख़बरें अभी तक || यूपी के गोंडा में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की मतगणना 2 मई से चल रही है और अभी तक सारे परिणाम नहीं आ सके हैं। लेकिन गोंडा के पंडरी कृपाल ब्लॉक के खैरा गांव के प्रधान पद के उम्मीदवारों को एक बराबर वोट आया तो टॉस प्रक्रिया की गई और इस प्रक्रिया में जब नतीजे नहीं सामने आए तो पर्ची निकालकर चुनावी भाग्य का फैसला किया गया। उस दौरान दोनों प्रधान के समर्थकों ने कुछ विवाद की स्थिति उत्पन्न करने का प्रयास किया, लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस ने पूरे मामले को शांत कराते हुए उपद्रवियों को कोतवाली ले आई।

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव ( Uttar Pradesh Panchayat Elections ) :  Nomination process starts in 18 districts of first phase today, know the  necessary rules - News Nation

जिला निर्वाचन अधिकारी के संज्ञान में आने पर उनके निर्देश पर दोनों प्रत्याशियों के बीच पहले सिक्का उछाला गया तो सिक्का खड़ा हो गया। उसके बाद जिलाधिकारी के आदेश पर लॉटरी निकाली गई जिसमें पूनम पाठक आखिरकार विजई घोषित हुईं। इस जीत से पूनम पाठक के भाग्य का फैसला हुआ और वो प्रधान चुनी गईं।

जानें कैसे जीत का हुआ फैसला

प्रधान पद के दो उम्मीदवारों को मिले बराबर वोट, टॉस हुआ तो सिक्का घास में  खड़ा हो गया, फिर ऐसे हुआ जीत का फैसला | News India Guru

दरअसल, गोंडा जिले में पंडरी कृपाल विकासखंड के खैरा गांव से प्रधान पद की प्रत्याशी पूनम पाठक व जामवंत देवी के बीच कांटे की टक्कर हुई। दोनों प्रत्यशियों को 607-607 वोट मिले। जिसके बाद दोनों के बीच वोटों की गिनती टाई हो गई। टाई होने पर दोनों पक्षों के समर्थकों ने आमने-सामने आकर हंगामा शुरू कर दिया। दोनों ओर से मामला बढ़ता देख मौके पर पहुंची पुलिस ने समर्थकों को हटाने का प्रयास किया। लेकिन आक्रोशित समर्थक पुलिस से ही भिड़ने लगे। तभी पुलिस ने मोर्चा संभालते हुए प्रदर्शनकारी और हंगामा काट रहे 14 लोगों को हिरासत में ले लिया।

UP Panchayat Elections can be held between 28 January to 5 February 2021  date announcement of gram pradhan chunav will be soon notification bdc -  यूपी पंचायत चुनाव : 28 जनवरी से

उसके बाद सिक्का उछाला गया तो सिक्का घास में खड़ा हो गया। फिर जिला निर्वाचन अधिकारी मार्कण्डेय शाही के निर्देश पर पर्ची उछालकर प्रधान के भाग्य का फैसला हुआ जिसमें पूनम पाठक को जीत हासिल हुई है।

Add your comment

Your email address will not be published.