सोनीपत में 8 किसानों पर किया गया जुर्माना, जानें क्या है वजह ?

ख़बरें अभी तक || हरियाणा में एक  तरफ जहां किसान की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही। तो वहीं अब प्रशासन भी किसानों पर सख्त होता दिखाई दे रहा है। पराली जलाने को लेकर पहले तो प्रशासन ने जागरूकता अभियान चलाए थे। लेकिन अब वह किसानों पर जुर्माने लगा रहा हैं। इसी बीच सोनीपत में अभी तक 8 किसानों पर प्रशासन द्वारा पराली जलाने को लेकर जुर्माना किया गया है।

वहीं इस पर प्रशासन का कहना है कि किसान पराली ना जलाएं और अगर जलाते हैं  तो, यह सख्ती लगातार जारी रहेगी। गौरतलब है कि प्रदेशभर के किसान सरकार के खिलाफ गुस्से में हैं। हालांकि सरकार किसानों को मनाने के लिए धरातल पर उतरी हुई है। प्रदेश के मुख्यमंत्री हो या फिर कैबिनेट मंत्री बार-बार अनाज मंडियों का दौरा कर रहे हैं। लेकिन पर्यावरण प्रदूषण को रोकने के लिए सरकार और प्रशासन अब किसानों पर सख्त होने लगा है।

सोनीपत में अभी तक पराली जलाने को लेकर 8 किसानों पर जुर्माना किया गया है। वहीं इसके बाद किसानों का कहना है कि सरकार किसानों की ही कोई मदद नहीं कर रही है। मंडियों में पहुंचने के बाद भी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं किसानों ने सवाल उठाते हुए यह भी कि क्या हमारे पराली के कारण ही पर्यावरण प्रदूषण फैलता है ? इतनी बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियां जो धुंआ फैलाती हैं वह कहां जाता है ?

प्रशासन और सरकार को उन पर भी कोई कार्यवाही करनी चाहिए। वहीं इस पर कृषि विभाग के अधिकारी का कहना है कि पराली जलाने को लेकर सेटेलाइट से नजर रखी जाती है और अभी तक सोनीपत में 8 किसानों पर जुर्माना किया गया है। वहीं किसानों से बार-बार अपील की जाती है कि वह पराली ना जलाएं। सभी किसानों पर ढाई -ढाई हजार रुपए जुर्माना हुआ है। वही आगे भी अगर किसान पराली जलाते हैं तो उन पर जुर्माना होगा।

Add your comment

Your email address will not be published.