पुलवामा हमले के चलते वैलेंटाइन डे की नहीं दिखी कुछ खास रौनक

खबरें अभी तक। पिछले वर्ष 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद इस बार का वैलेंटाइन डे जहां देशभर में फीका रहा वहीं जिला हमीरपुर के बाजार में भी वैलेंटाइन डे की कुछ खास रौनक नहीं दिखी। इस बार के वैलेंटाइन डे पर लोगों ने वैलेंटाइन डे मनाने की बजाय पुलवामा में हुए आतंकी हमले पर अपनी प्रतिक्रियाएं दी । वहीं अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने पुलवामा में हमले को लेकर गांधी चैंक पर रैली निकाली और भारतीय सेना की जय जयकार के नारे लगाए। वहीं शहीदों को भावभीनी श्रद्वाजंलि दी ।

दुकानदार मनीष शर्मा ने बताया कि आज के दिन वैलेंटाइन डे ना मनाकर शहीद दिवस कि रूप में मना रहे है । उन्होनें कहा कि लोगों से यही अपील है कि आज शाम पांच बजे पुलवामा में हुए शहीदों के लिए कैंडल मार्च निकाली जाएगी तो ज्यादा से ज्यादा लोग उसमें बढचढ़ कर भाग लें और शहीदों को नमन करें।

एबीवीपी के राज्यसचिव राहुल राणा ने कहा कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद आज सारा देश भारतीय सेना के साथ है और उनकी हौसला अफजाही के किए रैली निकाली गई है । उन्होंने कहा कि भारतीय सेना के जज्बे को सलाम करने के लिए एबीवीपी पूरे प्रदेश में  रैली निकाल रही है ।

बता दें इसी दिन जंहा पिछले वर्ष पुलवामा अटैक में 40 सीआरएफ के जवानों को खोया था वहीं वैलेंटाइन डे के दिन को ना मनाते हुए लोग सोशल मीडिया पर पुलवामा अटैक , पुलवामा नहीं भूलेगें ,ब्लैक डे जैसे टैग कर रहे हैं । इस हमले ने दुनिया ही नहीं ब्लकि पुरे देश को हिलाकर रख दिया था ।

Add your comment

Your email address will not be published.