पुलवामा हमले को हुआ एक साल पूरा, घटना जिससे शुरू हुआ बड़ा बदलाव

खबरें अभी तक। पुलवामा हमले को एक साल पूरा हो चला है, लेकिन देशवासियों के दिलों से अभी भी पुलवामा हमले के जख्म भरे नहीं हैं, पिछले साल 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हमला हुआ था, इस हमले को एक आत्मघाती हमलावर ने अंजाम दिया था। वहां हुए विस्फोट में करीब 40 जवान शहीद हो गए थे, और कई जवान घायल हुए थे.

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी 2019 को हुए हमले ने देश को थर्रा दिया था. एक साल पहले के इस दिन का इतिहास जम्मू-कश्मीर की एक बड़ी दुखद घटना के रूप में दर्ज हुआ है. पुलवामा हमला एक ऐसी हृदय विदारक घटना थी, जिसने पूरे देश को शोक संतप्त किया, और कश्मीर में पाक समर्थित आतंकवाद की दुनिया के सभी देशों ने कड़ी आलोचना की.

14 फरवरी के दिन सीआरपीएफ के 78 वाहनों के काफिले में 2,547 सीआरपीएफ जवान जम्मू के ट्रांजिट शिविर से श्रीनगर की ओर जा रहे थे, तभी श्रीनगर से करीब 30 किलोमीटर दूर अवन्तिपूरा इलाके में दोपहर करीब सवा तीन बजे आतंकियों ने इस हमले को अंजाम दिया. सीआरपीएफ की जिस बस में टक्कर मारी, उससे बहरा कर देने वाला विस्फोट हुआ. हमला इतना जबरदस्त था कि सीआरपीएफ बस के परखच्चे उड़ गए और 40 जवान शहीद हो गए.

पुलवामा हमला एक ऐसी घटना भी है  जिसके बाद देश एक बड़े बदलाव की राह पर आगे बढ़ गया. इस हमले के बाद पाकिस्तान के बालाकोट में भारतीय सेना ने आतंकियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया था.

 

Add your comment

Your email address will not be published.