डॉक्टर और रिसेप्शनिस्ट के बीच थे अवैध संबंध तो माँ और बच्चे को जलाया जिंदा

ख़बरें अभी तक। राजस्थान के भरतपुर से एक बेहद ही दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक महिला और उसके 8 साल के बच्चे को जिंदा जलाया गया है। पुलिस जांच में पता चला कि श्रीराम अस्पताल की रिसेप्शनिस्ट दीपा उर्फ रीया और डॉक्टर सुदीप गुप्ता के बीच अवैध संबंध थे जिसके चलते डॉ. सुदीप की पत्नी डॉ. सीमा गुप्ता और उसकी सांस सुरेखा गुप्ता ने महिला और उसके 8 साल के बच्चे को जिंदा जला दिया।

वो मदद के लिए चिल्लाती रही लेकिन कोई बचाने नहीं पहुंचा। वहीं बचाने आया उसका भाई अनुज भी आग में झुलस गया। तीनों को अस्पताल पहुंचाया गया जहां दीपा और शौर्य को मर्त घोषित कर दिया गया और अनुज को गंभीर हालात में जयपुर रैफर किया गया है।

आग लगने के बाद मकान के आसपास भीड़ जमा हो गई। इस दौरान वहां मौजूद डॉ. सीमा और उसकी सास सुरेखा लोगों से कह रही थी, हमने लगाई आग कोई बचा सको तो बचा लो। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार यहीं से डॉ. सीमा ने अपने पति को फोन कर आग लगाने की जानकारी दी थी। इसके बाद डॉ. सुदीप भी मौके पर पहुंचे लेकिन तब तक आग विकराल हो चुकी थी।

दीपा के पड़ोसियों के अनुसार आगजनी के पहले उसके कीचन से आवाज सुनाई दी थी। दीपा जोर-जोर से फोन पर अपने भाई को घर में आग लगाने की बात कह रही थी। इसके बाद वहां भाई अनुज पहुंचा और जान की परवाह किए बिना कंबल लपेट आग में कूद गया। उसने बहन और भांजे को बचाने की पूरी कोशिश की लेकिन वह बच नहीं सके। खुद अनुज का जयपुर में गंभीर हालत में इलाज चल रहा है।

Add your comment

Your email address will not be published.